कमलनाथ के राज्यपाल से मिलने के बाद आज सुनवाई : MP Political Crisis

Spread the love

कमलनाथ के राज्यपाल से मिलने के बाद आज सुनवाई : MP Political Crisis

कमलनाथ के सरकार पर मध्यप्रदेश में लगातार संकट बढ़ते ही जा रहे है | कमलनाथ के राज्यपाल से मिलने के बाद, आज होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई | जब कामनाथ ने निर्देश मिलने के बाद भी ‘फ्लोर टेस्ट’ नहीं कराया | इससे नाराज होकर राज्यपाल लालजी टंडन ने कामनाथ को दोबारा पत्र लिखा और पात्र में यह चेतावनी दी की १७ मार्च को विधानसभा में ” फ्लोर टेस्ट ” कराकर अपनी बहुमत दिखाए | अगर ऐसा नहीं करते है तो मान लिया जायेगा की उनके पास बहुमत नहीं है |

इसके तुरंत बाद राज्यपाल से मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दोबारा मिले और इसके बाद कहा कि वह राज्यपाल से मिलकर इस समय चल रहे हालत पर चर्चा की है | तथा कहा कि हम संविधान का पालन करते हुए सभी काम करने के लिए तैयार है | इस कारण से वह इससे बाहर नही जा सकते है |

कमलनाथ ने कहा कि भाजपा बिना किसी विश्वास के यह प्रस्ताव लेकर सामने आई है | अगर कोई कहता है कमलनाथ के पास संख्या नहीं है तो इस पर मै क्यों कोई ” फ्लोर टेस्ट ” दू | जिनको को इससे दिक्क्त है वो सामने आए और अपनी अपनी विचारधारा को सामने रखे |

बहुमत खो चुकी कमलनाथ कि सरकार : शिवराज

जब कामनाथ कि सरकार ने राज्यपाल ने आदेश का पालन नहीं किया | कमलनाथ को अपने पुरे विधायकों के साथ राज्यपाल से मिले और इस बात कि पुष्टि करे कि उनके पास पूर्ण बहुमत है | लेकिन लग तो यह रहा है कि मध्यप्रदेश कि सरकार के पास बहुमत नहीं है वह यह बहुमत खो चुकी है | इसी लिए राज्यपाल ने ” फ्लोर टेस्ट ” देने को कहा | लेकिन ” फ्लोर टेस्ट ” देने से डर रहे है क्योकि उन्हें पता है उनके पास बहुमत नहीं है |

विधानसभा राज्यपाल के निचे काम नहीं करती : कमलनाथ

जब रविबार कि रात कमलनाथ राज्यपाल से मिले तब उन्हों ने यह बात कही कि वह ” फ्लोर टेस्ट ” के बारे में सुबह स्पीकर से बात करेंगे | लेकिन इसके तुरंत बाद ही कमलनाथ ने राज्यपाल को ६ पेज का एक पात्र भेज दिया | ” फ्लोर टेस्ट ” देने पर सवाल खड़े कर दिए और कहा कि राज्यपाल विधानसभा में लोकपाल कि तरह काम नहीं कर सकते है | क्योकि विधानसभा राज्यपाल के अंतर्गत नहीं आता |

कमलनाथ कि पात्र भाषा ठीक नहीं : राज्यपाल

राज्यपाल ने कमलनाथ को एक बार फिर पत्र लिखा इससमे उन्होंने लिखा कि जो पत्र आपने लिखा है | उस पत्र कि भाषा अनुकूल नहीं है | और मै आप से उम्मीद रखता हु कि आप विधानसभा में १६ मार्च तक अपनी बहुमत हासिल कर लेंगे | और आप अपनी सरकार कि बहुमत सिर्फ फ्लोर टेस्ट के माध्यम से ही दिखा सकते है |


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *